Home » देश » Karnataka Cabinet Expansion :मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हुए कई नेता, कई जिलों को कोई प्रतिनिधित्व नहीं मिला.

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के मंत्रिमंडल में जगह नहीं पाने वाले नेताओं और उनके समर्थकों ने खुले तौर पर अपनी नाराजगी व्यक्त की.

Karnataka Cabinet Expansion

कर्नाटक : कर्नाटक में कैबिनेट विस्तार किया गया , लेकिन इस विस्तार से ऐसा लगता है कि सत्तारूढ़ बीजेपी के भीतर असंतोष पनप रहा है. मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के मंत्रिमंडल में जगह नहीं पाने वाले नेताओं और उनके समर्थकों ने खुले तौर पर अपनी नाराजगी व्यक्त की. वहीं कई जिलों को कोई प्रतिनिधित्व नहीं मिला.

कैबिनेट में जगह नहीं मिलने से नाराज कृष्णराज सीट से बीजेपी विधायक एस ए रामदास ने कहा कि मुझे कल रात तक बधाई संदेश मिले थे, लेकिन पता नहीं आखिरी मिनट में क्या बदल गया.

कई जिलों को तो कोई प्रतिनिधित्व नहीं मिला.

इन जिलो को कोई प्रतिनिधि नहीं मिला है : मैसूरू, कलबुर्गी, रामनगर, कोडागु, रायचूर, हासन, विजयपुरा, बेल्लारी, दावणगेरे, कोलार, यादगीर, चिक्कमगलुरु और चामराजनगर.

वही गत येदियुरप्पा की कैबिनेट में शामिल कई मंत्रियों को भी बोम्मई के मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है और उन्होंने भी असंतोष व्यक्त किया है.

जगदीश शेट्टार , सुरेश कुमार, लक्ष्मण सावदी, अरविंद लिंबावली, सीपी योगेश्वर, श्रीमंत पाटिल और आर शंकर को भी नए मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली.

शंकर ने कहा कि उन्हें आश्चर्य है कि उन्हें “आश्वासन के बावजूद” मंत्री क्यों नहीं बनाया गया. वह 2019 में कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन छोड़ने के बाद बीजेपी में शामिल हुए विधायकों में से एक हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *