राहुल गांधी ने विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए भी सरकार की आलोचना की.

Home » देश » ‘जब भी हम पेगासस एवं जम्‍मू-कश्‍मीर का मुद्दा उठाते है, हमारी आवाज को रोका गया ‘ – राहुल गांधी
Rahul Gandhi

राहुल ने विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए सरकार की आलोचना की. उन्‍होंने कहा कि जब भी हम पेगासस एवं जम्‍मू-कश्‍मीर का मुद्दा उठाते है, हमारी आवाज को रोका गया.

जम्‍मू कश्‍मीर का वर्ष 2019 में विशेष राज्‍य का दर्जा समाप्‍त होने के बाद पहली बार श्रीनगर पहुंचे कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने J&K का राज्‍य का दर्जा बहाल करने और निष्‍पक्ष और स्‍वतंत्र विधानसभा चुनाव कराए जाने की मांग की है.

राहुल गांधी कश्मीर के लोगो को अपना बताते हुए कहा, ‘मुझ में थोड़ी कश्‍मीरियत है.’ राहुल ने कहा, ‘गुलाम नबी आजादजी ने मुझे संसद में कश्‍मीर का मुद्दा उठाने को कहा था लेकिन मैं आपसे कहना चाहता हूं कि हमें इस बारे में बोलने की इजाजत नहीं दी गई. पेगासस, भ्रष्‍टाचार और बेरोजगारी जैसे कई मसले हैं जो मैं उठाना चाहता था लेकिन बोलने का मौका नहीं दिया गया.”

उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा ‘आज यह बात केवल जम्‍मू कश्‍मीर की नहीं बल्कि सारे संस्‍थानों की है. जैसे न्‍यायपालिका राज्‍यसभा और लोकसभा पर हमला किया जा रहा है. मीडिया सच्‍चाई को उजागर नहीं कर रहा..उसे दबाया जा रहा है, धमकाया जा रहा है. वे डरे हुए हैं. उन्‍हें भय है कि यदि वे तथ्‍यों के बारे में रिपोर्ट करेंगे तो उनकी नौकरी चली जाएगी.’उन्‍होंने कहा, ‘राज्‍य का दर्जा (जम्‍मू-कश्‍मीर का) बहाल किया जाना चाहिए और लोकतांत्रिक प्रक्रिया-चुनाव कराए जाने चाहिए.’ जम्‍मू कश्‍मीर को इस समय जम्‍मू और कश्‍मीर दो केंद्र शासित क्षेत्र में बांटा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *